Bawray Banjaray In North East

11 posts

a beautiful sunrise in barak valley connecting nagaland with assam

नॉर्थईस्ट भारत से पहली मुलाकात — हॉर्नबिल फ़ेस्टिवल से करीमगंज की कभी न ख़त्म होने वाली इंटरस्टेलर ड्राइव

“जब आप घूमने के लिए कहीं जाते हैं, तो बेशक एक मोमेंट के लिए ही सही, घर की याद आई है?”
नार्थ ईस्ट की कहानी में आगे बढ़ने से पहले आप हमें ये बताइए

Dwijing Festival

Know it all Guide to Dwijing Festival – BAWRAY BANJARAY GUIDES

Dwijing Festival is an annual festival held during the new year’s time, from Dec 27th to Jan 7th every year. We were invited by Bodoland Tourism and Assam Tourism to attend the festival, through their program, Ambassadors of Bodoland. While the festival lasts for 12 days, we spent 3 days here, and in these three days, we were not able to see it in its entirety. We couldn’t eat all the food, could not drink all types of local wines, dance with locals was never getting enough and the art installments were so thought-provoking that you might be spending days at a time and still not be fulfilled by the meanings.

Hornbill Festival 2018

नागालैंड के हॉर्नबिल फ़ेस्टिवल में एक दिन | नॉर्थईस्ट भारत से पहली मुलाकात | भाग – 2

सारे परफॉर्मेंसेज़ देख कर हमको आख़िरकार वो चीज़ समझ आती है जिसके लिए नागा लोगों का यह परफॉर्मेंस होता है. परफॉर्मेंसेज़ का टॉपिक इतना सीरियस होते हुए भी सब मजाकिया तौर पर हो रहा होता है. नकली गन, नकली गोली और मारना मरना सब नकली। हालाँकि इसी परफॉर्मेंस के थ्रू ये लोग युद्ध के मैदान में होने वाले नुकसान को दिखाते हैं. यही इस परफॉर्मेंस का मकसद होता है. असल वॉर की एक पैरोडी करके ये लोग ह्यूमंस की लड़ाई वाली मानसिकता पर गहरी चोट करते हैं. बेशक इन लोगों में इस बात की समझ पर्सनल एक्सपीरियंस के बाद आयी हो, पर दर्शकों को अपनी पर्फोमन्स से इस बात पर सोचने को मजबूर करते हैं.

An eagle view of majuli Island

रिकैप | नार्थईस्ट भारत से पहली मुलाकात

हमलोग कोहिमा शहर एक्स्प्लोर करते हुए हार्नबिल फेस्टिवल की तरफ बढ़ रहे थे. कलाम, लिंकन, इंस्टीन और एमिनेम — अगर कोई शहर आपको इन सब को एक ही फ़्रेम में दिखाता है, तो आपको एक बार ऐसे शहर को क़रीब से ज़रूर जानना चाहिए. हमारे पास कोहिमा में बिताने का ज्यादा समय तो नहीं था, पर दुबारा यहां आने के लिए शहर की इतनी झलक काफ़ी थी. कोहिमा से किसामा जाकर अब बारी थी नागालैंड के सबसे फ़ेमस ‘हॉर्नबिल फेस्टिवल’ अटेंड करने की. यही मौका था यहां के लोगों को और अच्छे से जानने का. जब तक हम आपसे नार्थईस्ट यात्रा की आगे की कहानी बताएं, तब तक आप आप माजुली में हमारे पहले दो दिनों की कहानी ज़रूर पढ़ लीजिए।

Sunrise in Majul by Brahmaputra River

अ फेस ऑफ विद लॉस – माजुली आइलैंड | नॉर्थईस्ट भारत से पहली मुलाकात | भाग – 1

बहुत से लोग, संस्थाएं और सरकार इसे बचाने की कोशिश में लगे हैं। पर, माजुली को बचाने के लिए अभी तक जितने भी प्रयास किये गए हैं, कुछ ज्यादा सफल नहीं रहे। जरुरत है कि ज्यादा से ज्यादा लोग माजुली पहुँचे और लिखकर, मूवी बनाकर या किसी भी तरीके से माजुली पर मंडराते खतरे के बारे में लोगों को बताएं। सरकार और संस्थाओं के साथ-साथ लोगों का साथ ज्यादा जरुरी है, नहीं तो माजुली नक़्शे से ही गायब हो जाएगा।

Root Bridge of Meghalaya

Trek To The Double Decker Living Root Bridges Of Meghalaya – 6000 सीढ़ियों वाली ट्रेक

वंडरलस्टर्स की बकेट लिस्ट्स में मेघालय अचानक से फेमस हो गया! बस पिछले तीन साल का टूरिस्ट काउंट और मेघालय के ऊपर बनाया गया कॉन्टेंट काउंट ही कम्पेयर किया जाए तो आपको इसका पता चल जाता है कि नार्थ ईस्ट इंडिया is a the new cool! इस ट्रेंड को सेट करने वाली दो चीज़ें हैं — एक तो वो ट्रांसपेरेंट नदी (उमगोट नदी – डॉकि और श्नोपडेन्ग) और दूसरा है Double Decker Root Bridge Of Meghalaya. पिछले साल दिसम्बर में Bawray Banjaray In North East एक्सपेडिशन पर ये सेकंड लास्ट डे था. पिछली रात सोहरा में कैंपिंग के बाद आज […]

Experiencing the vibrant colors at Hornbill is among the best things to do in Nagaland

GUIDE TO HORNBILL FESTIVAL 2019 – PHOTO BLOG AND ALL YOU NEED TO KNOW

Hornbill Festival 2019 – Dates & Hornbill Festival Tickets Like every year, Horbill Festival 2019 — a 10-day grand show of Naga Heritage and Culture starts on December 1 (Saturday) and will end on Monday, the 10th of December. The tickets are available at the counters set up near the entry. The ticket is basically like a band, only green in color, that one gets for club and event entries. The tickets are priced at INR 20 while the camera charges are INR 30 and INR 50 respectively for still and video cameras. Go Pros were allowed for free at […]

BAwray Banjaray camps in Sohra

Camping In Sohra – आपके सामने रात की रहनुमाई में एक दूसरा देश दिखेगा

आपका जाना हुआ, तो आप यहाँ टेंट लगा सकते हैं – दूर से ही आपको बांग्लादेश व्यू पॉइंट का बोर्ड दिख जाएगा. ध्यान रहे कि यह कोई डेजिग्नटेड जगह नहीं है कैंपिंग के लिए, तो हो सकता है कि कभी प्रशासन आकर आपको यहाँ से जाने के लिए कहे.

Traditional huts as home stays in Majuli

Bawray Banjaray In North East – Live Blog

अपना नार्थ ईस्ट वाली ट्रिप रहा बहुत शानदार – दिल्ली से गुवाहाटी, गुवाहाटी से माजुली, माजुली से हार्नबिल फेस्टिवल, हार्नबिल से आसाम के एक छोटे से कसबे करीमगंज और पघिर वहां से मेघालय – 10 दिन कैसे बीत गए, कुछ पता ही नहीं चला.