Bawray Banjaray at Shrikhand

Bawray Banjaray At Shrikhand Mahadev

कोई श्रद्धा से, कोई शौक से, कोई सनक में या पागलपन में – हर साल हज़ारों लोग अपने -अपने मकसद और अरमान लिए श्रीखंड महादेव की यात्रा के लिए आते हैं. कुछ दर्शन कर पाते हैं, कुछ रह जाते हैं. 2018 में भी कुछ ऐसा ही हुआ – करीब 12 से 13 हज़ार लोग श्रीखंड दर्शन करने पहुँचे, लेकिन सिर्फ़ दो से ढ़ाई हज़ार लोगों को ही बाबा के दर्शन मिले. हम बहुत ख़ुश-नसीब रहे कि हमें ऊपर मौसम बेहतरीन मिला। फूल जैसी यात्रा रही और दर्शन अलौकिक! श्रीखंड महादेव ट्रैक आसान तो नहीं है पर नामुमकिन भी नहीं ! परिस्थितियाँ आपको मानसिक और शारीरिक दोनों तरह से चैलेंज करते हैं। रास्ता हर कदम पर आप से सवाल करता है -जैसे आपसे वहाँ आने का कारण पूछता हो, आपकी परीक्षा लेता है। पर नेचर कहीं भी कोई कसर नहीं छोड़ता आपका साथ देने में – आपका हौसला बढ़ाता है, आपको नए नज़ारे दिखाता है। आखिर में सब आप पर डिपेंड करता है की आप क्या सोच कर चलते हैं और कैसे आगे बढ़ते हैं। अगर बढ़ते रहेंगे तो पक्का पहुँचेंगे।

[pt_view id=”3777dfdbzy”]